कितनी मुहब्बत तुमसे है ये मै नही जानता

कितनी मुहब्बत तुमसे है ये मै नही जानता
दुवाओ मे कैसे ना मै तुझे माँगता
तमन्ना है मेरी हर वक्त तेरे साथ रहने की
फिर कैसे ना मै तुझे खुदा मानता

No comments:

Post a Comment